आकाश रंग नीला क्यों दिखाई देता है ?

आकाश रंग नीला क्यों दिखाई देता है ?
आकाश रंग नीला क्यों दिखाई देता है ?

आकाश रंग नीला क्यों दिखाई देता है ?

आकाश या आसमान का वैसे तो कोई रंग नहीं होता है | लेकिन हमें प्राय: दिखाई देता है की आकाश नीला दिखाई देता है | मगर आकाश का रंग तो नीला नहीं होता है फिर ऐसा क्यों होता है ? चलिए देखते है की आखिर ऐसे क्या कारन है जिसके चलते हमें आकाश नीला दिखाई देता है –

जब सूरज की किरणे आकाश मार्ग से होते हुए पृथी के वातावरण में प्रवेश करते है उस समय सूर्य की किरणे पृथ्वी की वातावरण में  कणों से टकराकर पृथ्वी पर फ़ैल जाते है | हम सब को तो पता है की प्रकाश में सात प्रकार के रंग होते है | इन सात रंगों में से नीले रंग में ज्यादा फैलाव की प्रवृती होती है ,इसलिए जब  प्रकाश किरणे वातावरण में प्रवेश करती है तो वतावारानिय कणों से टकराकर नीला रंग सबसे ज्यादा फ़ैल जाता है |

नीला रंग के ज्यादा फ़ैल जाने से जब हम आकाश की तरफ देखते है तो हमें आकाश नीला दिखाई देता है |