पढ़ने का सही तरीका-पढ़ने का सही समय

पढाई करना हर एक छात्र के लिए बेहत जरुरी होता है, लेकिन कुछ छात्रों के समज में नहीं आता की पढाई कैसे की जाए? या फिर पढ़ने का सही समय क्या है?


अगर आप भी इसी दुविधा में है तो आप ये पोस्ट पढ़िए इससे आपको काफी लाभ मिलेगा. सभी ढंग से पढाई करेंगे तो ही एग्जाम में ठीक से लिख पाएंगे, कई छात्र पढ़ तो लेते है लेकिन परीक्षा में सभी भूल जाते है. क्यों की वो ठीक से पढ़ नहीं पाते.

पढ़ने का सही तरीका :

1.सबसे पहले क्लास में पढ़ाते समय ध्यान से सुने, समजे :

आप जिस भी क्लास में पढ़ते है वहा पर जब आपके teacher आपको पढ़ा रहे होते है, तो उसको ठीक से सुने. उसको ठीक से समझे, अगर पढ़ाते ते समय आपको कुछ समज में नहीं आ रहा है तो तुरंत अपने teacher से बात करे उनको बताए की आपको कोनसा टॉपिक समज नहीं आ रहा.
क्यों की अगर हम स्कूल, कॉलेज में पढ़ाते समय पूरा ध्यान दे तो घर पर हमे ज्यादा पढाई करने की जरुरत नहीं पढेगी. क्यों की कई छात्र स्कूल में ठीक से ध्यान नही देते, मटरगश्ती करते है, और फिर कहते है की हमे कुछ समज में नहीं आ रहा.

इसलिए पढ़ाते से समय अपना पूरा 100% ध्यान क्लास में दे.

2.कोनसा सब्जेक्ट ज्यादा हार्ड है उसको एनालाइज करे :

कई स्टूडेंट की ये परेशानी होती है की उनको कुछ सब्जेक्ट बहुत हार्ड लगते है. हार्ड लगने के बहुत से कारण हो सकते है जैसे उस सब्जेक्ट में रूचि नहीं होना, बचपन से उस सब्जेक्ट के बारे भय होना.

जैसे : mathematics विषय के बारे में बहुत से छात्र को लगता है की ये बहुत हार्ड सब्जेक्ट है.
लेकिन एसा कुछ नहीं होता, आपको जो सब्जेक्ट ज्यादा हार्ड लगते है उनकी पढाई ज्यादा करे, उनको ज्यादा समय दे.

3.पढाई का सही समय :

पढाई करने के लिए सही समय का चुनाव करना बहुत जरुरी है. पढाई के लिए सबसे अच्छा टाइम सुभह का माना जाता है. आप सुभह 4.30, 5,6 बजे उठकर पढ़े तो आपने जो पढ़ा है, वो ज्यादा याद रहेगा क्यों की सुभह सभी वातावरण शांत होता है.

हमारा मूड फ्रेश होता है.इसलिए सुभह उठकर डेली 2 घंटे जरुर पढ़ना चाहिए.

4. अपना खुद का एक टाइम टेबल बनाए:

अगर आप एक सफल आदमी बनना चाहते है तो आपका खुद का एक टाइम टेबल होना बहुत जरुरी है. जिमसे आपको जो भी फ्री टाइम मिलता है याने स्कूल,कॉलेज को छोड़कर उसका एक टाइम टेबल बना लेना चाहिए.

जिसमे आपको पढाई के ज्यादा समय देना होगा, उसके बाद खेल के लिए कुछ समय, अपने दोस्तों के साथ कुछ समय, जिससे क्या होगा, आपको भी फ्रेश लगेगा.
अगर इस तरह आप अपना एक टाइम टेबल बना लेते है, पढाई में आपको कोई दिक्कत नहीं आएगी.

5.पढ़ने के साथ साथ लिखे :

कुछ लोगो की दिक्कत ये है की वो कितना भी पढ़ ले, उनके याद में नहीं रहता तो उनके लिए एक सलाह है की आपको जिस भी सब्जेक्ट की revision करनी है. उसके जो main पॉइंट्स है उसको लिख कर practice करे. एक दो बार लिख ले, और उसके बाद देखे आपको फर्क दिखाई देगा.

कुछ सब्जेक्ट होते है जिसको हमे लिखकर भी practice करनी पड़ती है, जैसे mathematics के जो प्रॉब्लम होते है वो, किसी भी सब्जेक्ट में जो drawing(diagram) होते है वो उनको एक दो बार लिखकर, ड्रा करके याद करने की कोशिश करे.

6. ग्रुप discussion करे :

एसे बहुत कम स्टूडेंट होते है जो सभी सब्जेक्ट में परफेक्ट होते है. ज्यादा तर स्टूडेंट किसी ना किसी सब्जेक्ट में थोडा बहुत वीक होते है.
एसे में आपको क्या करना है अपने जो भी दोस्त है उनके साथ ग्रुप बनाकर स्टडी करनी है. ग्रुप बनाकर discussion करना है.

आपको जो आता है वो आप दुसरे फ्रेंड को समझा देना, और आपको जो आता नहीं है तो उनसे समझ लेना. ग्रुप discussion, ग्रुप स्टडी से पढाई में मन भी लगता है और सब्जेक्ट भी समझ में आ जाते है.

7. हर रोज थोडा थोडा पढ़े :

कुछ स्टूडेंट को बहुत बुरी आदत होती है, की एग्जाम आने से पहले एक या दो दिन पहले स्टडी करना शुरू कर देते है.लेकिन एसा करने से उनका नुकसान हो जाता है. क्यों की 1,2 दिन या फिर 1 हफ्ते में पूरी स्टडी कर पाना मुमकिन नही है. इसलिए हर रोज थोडा थोडा पढ़े इससे आपपर एग्जाम में समय स्टडी का बोज नहीं पड़ेगा.

अब आपकी बारी :

दोस्तों अगर आप भी एक छात्र है और पढाई करने के लिए कोई और तरीका अपनाते है तो आप हमे कमेंट में अपना तरीका बता सकते है.

पढ़ने का सही तरीका-पढ़ने का सही समय
Rate this post

2 Comments

  1. Exampal ke taur par= agar ham Relway group D ki taiyyari 12ddays main khud se karna chahate hain to kaise reading karni chahiye aap advice den.

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*